Hindi Reviews बालों की देखभाल

बालों की देखभाल के लिए 8 घरेलू नुस्खे

बालों की देखभाल के लिए 8 घरेलू नुस्खे – Magnificence Ideas for Hair Care in Hindi Anuj Joshi December 27, 2018

बालों का महत्व क्या होता है, यह उन से बेहतर कौन बता सकता है, जिनके सिर के बाल उड़ चुके हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि हर किसी के व्यक्तित्व की खूबसूरती उसके सिर के बालों से कई गुना बढ़ जाती है। वहीं, दूसरी तरफ असंतुलित खानपान, तनाव भरी जिंदगी, धूल-मिट्टी, प्रदूषण और केमिकल युक्त हेयर प्रोडक्ट्स ने सिर के बालों का दम निकालकर रख दिया है। अब सवाल यह आता है कि इस भागदौड़ भरी जिंदगी में जहां सांस लेने की फुर्सत नहीं है, वहां बालों की देखभाल कैसे संभव है, तो इसका जवाब बेहद आसान है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम कुछ ऐसे हेयर केयर टिप्स (hair care ideas) बता रहे हैं, जो न सिर्फ फायदेमंद हैं, बल्कि उन्हें प्रयोग करना बेहद आसान है। साथ ही इन्हें बनाने और लगाने में ज्यादा समय भी नहीं लगता।

बालों की देखभाल कैसे करें, उसके लिए घर में ही बन जाने वाले झटपट नुस्खों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

बालों के लिए घरेलू उपाय – Do-it-yourself Ideas for Hair Care in Hindi

1. कंडीशनर – अंडा

Conditioner - Egg Pinit

Shutterstock

प्रक्रिया नंबर-1

सामग्री

  • दो अंडे
  • दो चम्मच जैतून का तेल
  • थोड़ा पानी (वैकल्पिक)

कैसे प्रयोग करें

  • दोनों अंडों को तोड़कर उनके पीले हिस्से को कटोरी में डाल दें।
  • अब इसमें जैतूल का तेल डालकर मिक्स करें।
  • अगर जरूरत लगे, तो इसमें थोड़ा पानी मिक्स कर सकते हैं।
  • फिर ब्रश की सहायता से इस पैक को अपने बालों पर लगाएं और दो घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद ठंडे पानी और माइल्ड शैंपू से बालों को धो लें।

कब करें प्रयोग

  • इसे आप हफ्ते में एक बार अपने बालों पर लगा सकते हैं।

प्रक्रिया नंबर-2

सामग्री

  • दो अंडे
  • चार चम्मच मयोनीज

कैसे प्रयोग करें

  • एक कटोरी में इन दोनों सामग्रियों को अच्छी तरह मिक्स कर लें। आप चाहें तो इसमें थोड़-सा जैतून का तेल भी डाल सकते हैं।
  • ब्रश की मदद से इस पेस्ट को बालों की जड़ों से लगाएं और शावर कैप पहन लें।
  • करीब 30 मिनट बाद ठंडे पानी से बालों को धो लें और बाद में सल्फेट फ्री शैंपू से बालों को साफ करें, ताकि अंडे की गंध बालों से निकल जाए।

कब करें प्रयोग

  • इस कंडीशनर को हफ्ते में कम से कम एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

प्रक्रिया नंबर-Three

सामग्री

  • आधा कप अंडा

कैसे प्रयोग करें

  • पूरे अंडे को मिक्स करके बालों पर लगाएं। अगर आधा कप अंडा कम पड़े, तो आप और भी ले सकते हैं।
  • करीब 20 मिनट लगा रहने दें और फिर पानी व शैंपू से बालों को अच्छी तरह धो लें।

कब करें प्रयोग

  • बालों की देखभाल के तरीके के रूप में इसे महीने में एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

कैसे है लाभकारी

अंडा न सिर्फ स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, बल्कि यह बालों पर भी चमत्कारी तरीके से काम करता है। इसमें प्रोटीन, फैट, खनिज, बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन और अन्य पोषक तत्व होते हैं, जो बालों को जड़ों से मजबूत करते हैं और उन्हें घना बनाते हैं। अंडा बालों को मॉइस्चराइज करता है और सिर से अतिरिक्त तेल को साफ कर देता है (1)। वहीं जैतून के तेल और मयोनीज में भी बालों को कंडीशनिंग करने के पर्याप्त गुण होते हैं। हेयर केयर टिप्स (hair care ideas) के रूप में आप अंडे का प्रयोग कर सकते हैं।

2. टूटते बाल – शहद व जैतून का तेल

सामग्री

  • दो चम्मच शहद
  • दो चम्मच जैतून का तेल

कैसे प्रयोग करें

  • इन दोनों सामग्रियों को मिक्स कर लें और हल्के-हल्के हाथों से सिर की मालिश करें।
  • मालिश के करीब 20 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।
  • आप इस मिश्रण को हल्का गुनगुना करके भी मसाज कर सकते हैं।

कब करें प्रयोग

  • इसे हफ्ते में कम से कम एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

कैसे है लाभकारी

कई लोग पूछते हैं कि बालों की देखभाल कैसे करें। ऐसे में जैतून का तेल बालों के लिए बेहद गुणकारी है। यह बालों को जड़ों से मजबूत कर झड़ने से रोकता है और बालों को बड़ा होने में मदद करता है। बालों के झड़ने का मुख्य कारण स्कैल्प पर बैक्टीरिया और संक्रमण होना है, लेकिन जैतून के तेल से मालिश करने पर ये दोनों समस्या दूर हो जाती हैं। साथ ही जैतून के तेल से डैंड्रफ की समस्या भी दूर होती है। जैतून के तेल में मॉइस्चराइजिंग गुण होता है, जिससे स्कैल्प को पोषण मिलता है और बाल झड़ना बंद हो जाते हैं (2)। वहीं, शहद के प्रयोग से रूखे व बेजान बालों में निखार आता है। साथ ही यह प्राकृतिक कंडीशनर की तरह काम करता है (Three)। बालों की देखभाल के लिए शहद व जैतून का तेल जरूरी प्रयोग करें।

Three. सिर में खुजली – नींबू व जैतून का तेल

Headache Itching - Lemon and Olive Oil Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • दो चम्मच नींबू का रस
  • दो चम्मच जैतून का तेल

कैसे प्रयोग करें

  • इन सभी सामग्रियों को एक कटोरी में डालकर मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण से अपने सिर की हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसके करीब 20 मिनट बाद शैंपू से बालों को धो लें।

कब करें प्रयोग

  • हफ्ते में कम से कम एक बार प्रयोग करें।

कैसे है लाभकारी

नींबू का रस सिट्रक एसिड का प्रमुख स्रोत है। साथ ही इसमें विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो डैंड्रफ को खत्म करे स्कैल्प को पोषण देता है, जिससे खुजली जड़ से खत्म हो जाती है। साथ ही यह स्कैल्प के पीएच स्तर को संतुलित बनाए रखता है। नींबू के एसिडिक प्रभाव के कारण स्कैल्प पर ताजगी बनी रहती है और बालों को बढ़ने में मदद मिलती है (four)। बालों की देखभाल के लिए नींबू का प्रयोग बेहद जरूरी है।

four. उलझे बाल – एवोकाडो

सामग्री

  • एक पका हुआ एवोकाडो
  • एक कप योगर्ट

कैसे प्रयोग करें

  • एवोकाडो को काटकर उसमें से बीज निकाल लें।
  • अब इसे अच्छी तरह मसल लें और फिर इसमें योगर्ट को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को सिर पर लगाएं और 40-45 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद सिर को शैंपू से धो लें और बाद में कंडीशनर भी लगाएं।

कब करें प्रयोग

  • आप इस हेयर मास्क को हफ्ते में एक या दो बार लगा सकते हैं।

कैसे है लाभकारी

हेयर केयर टिप्स (hair care ideas) के रूप में आप एवोकाडो का प्रयोग करें। बालों की देखभाल के तरीके के रूप में एवोकाडो व योगर्ट को मिलाकर बना हेयर मास्क न सिर्फ किफायती है, बल्कि उलझे व घंघराले बालों के लिए भी बेहद लाभकारी है। एवोकाडो में विटामिन-बी और ई होता है, जो बालों को पोषण प्रदान कर उन्हें टूटने से बचाता है। वहीं योगर्ट बालों को जड़ों से साफ और पोषित करता है (5) (6)।

5. घने बाल – बीयर व अंडा

Dense hair - beer and egg Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • आधा कप फ्लैट बियर
  • एक चम्मच एवोकाडो ऑयल
  • एक अंडा

कैसे प्रयोग करें

  • इन सभी सामग्रियों को एक कटोरी में डालने के बाद अच्छी तरह मिक्स करें।
  • अब इस मिश्रण को बालों की जड़ों में लगाएं और फिर मालिश करते हुए पूरे बालों पर लगा दें।
  • जब यह स्कैल्प व बालों पर अच्छी तरह लग जाए, तो सिर को शावर कैप से ढक दें।
  • करीब 30 मिनट बाद बालों को शैंपू कर लें और बाद में कंडीशनर करना न भूलें।

कब करें प्रयोग

  • इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

कैसे है लाभकारी

अंडे में प्रोटीन व फैटी एसिड होता है, जो बालों को मॉइस्चराइज करता है और बालों को जरूरी पोषण मिलते हैं। हेयर केयर टिप्स (hair care ideas) के रूप में यह बीयर के साथ मिलकर बालों को जड़ों से मजबूत करता है और उन्हें बढ़ने में मदद करता है, जिससे बाल लंबे और घने नजर आते हैं (7)।

6. टूटते बाल – एलोवेरा

सामग्री

  • एक कप प्याज का रस
  • एक चम्मच एलोवेरा जेल

कैसे प्रयोग करें

  • तीन-चार प्याज लेकर उन्हें मिक्सी में ग्राइंड कर लें और फिर किसी सूती कपड़े में डालकर निचोड़ लें, ताकि उसका रस निकल जाए।
  • अब इसमें एलोवेरा जेल मिलाकर मिक्स कर दें।
  • इसके बाद इस मिश्रण से तब तक सिर की मालिश करें, जब तक कि पूरे बालों पर यह मिश्रण लग न जाए।
  • करीब घंटे तक बालों को ऐसे ही रहने दें और फिर शैंपू से धो लें। इसके बाद कंडीशनर जरूर लगाएं।

कब करें प्रयोग

हफ्ते में कम से कम एक बार जरूर प्रयोग करें।

कैसे है लाभकारी

बालों के लिए यह घरेलू उपचार सबसे बेहतर है। इससे न सिर्फ बाल लंबे होते हैं, बल्कि बालों का टूटकर गिरना भी कम हो जाता है। प्याज के रस में वो तमाम गुण मौजूद हैं, जो बालों के विकास के लिए जरूरी है। यह स्कैल्प को पोषित कर बालों के फॉलिकल्स को सक्रिय करता है। इस मिश्रण के नियमित प्रयोग से बालों का विकास बेहतर तरीके से होगा और घने होंगे (8)।

नोट : कुछ लोगों की स्किन संवेदनशील होती है। उन्हें प्याज का रस लगाने से जलन हो सकती है। इसलिए, यह मिश्रण लगाने से पहले इसे अपने हाथ पर लगाकर देख लें। अगर जलन हो, तो इसका प्रयोग न करें या फिर इस बारे में अपने डॉक्टर से भी पूछ सकते हैं।

7. डैंड्रफ – ब्राउन शुगर

Dandruff - Brown Sugar Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • दो चम्मच ब्राउन शुगर
  • दो चम्मच ताजा नींबू का रस
  • दो चम्मच जोजोबा ऑयल
  • एक चम्मच समुद्री नमक

कैसे प्रयोग करें

  • ब्राउन शुगर और समुद्री नमक को एक कटोरी में मिक्स कर लें।
  • अब इसमें जोजोबा ऑयल व ताजा नींबू के रस को मिला दें।
  • इस मिश्रण को सिर व बालों पर लगाने के बाद 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर शैंपू से धो लें।

कब करें प्रयोग

  • हफ्ते में एक बार प्रयोग करें।

कैसे है लाभकारी

जोजोबा ऑयल और ब्राउन शुगर मिलकर स्कैल्प के लिए स्क्रब का काम करते हैं। इससे न सिर्फ डैंड्रफ दूर होता है, बल्कि बालों का टूटना कम होता है और मॉइस्चराइज होते हैं। इसके अलावा, यह मिश्रण बालों को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाता है।

8. शैंपू

बालों को लंबा, घना और स्वस्थ बनाए रखने के लिए जरूरी है कि उन्हें साफ-सुधरा रखें। साथ ही हर्बल हेयर केयर उत्पादों का चुनाव करें। शैंपू भी इनमें से एक है। हर तरह के बालों के लिए शैंपू भी अलग-अलग होते हैं। इसलिए, जब भी शैंपू चुनें, इस बात का ध्यान जरूर रखें।

  • रूखे बालों के लिए : शैंपू ऐसा होना चाहिए, जो बालों को मॉश्चराइज करे और उन्हें मुलायम बनाए। ऐसा कोई शैंपू न लें, जो स्कैल्प में मौजूद प्राकृतिक तेल को भी सुखा दे। इससे बाल और रूखे व बेजान हो जाएंगे। रूखे बालों के लिए शैंपू लेने से पहले जांच लें कि उसमें एवोकाडो, नारियल, आर्गन या फिर ग्रेपसीड का तेल जरूर हो। साथ ही रूखे बालों में शैंपू करने के बाद कंडीशनर का प्रयोग जरूर करें।
  • तैलीय बालों के लिए : इस तरह के बालों के लिए ऐसा शैंपू न लें, जो मॉइस्चराइजिंग व कंडीशनर का काम करता हो। तैलीय बालों को और मॉइस्चराइजिंग की जरूरत नहीं होती। तैलीय बालों में डैंड्रफ की समस्या आम होती है। इसलिए, एंटी-डैंड्रफ शैंपू का चुनाव करें। ऐसे बालों के लिए नींबू युक्त शैंपू बेहतर होता है।
  • सामान्य बालों के लिए : इस तरह के बाल न तो ड्राई होते हैं और न ही तैलीय, इसलिए ऐसे बालों के लिए कोई भी सामान्य शैंपू प्रयोग कर सकते हैं। ध्यान रहे कि यह शैंपू हर्बल और अच्छे ब्रांड का होना चाहिए।

आगे हम बता रहे हैं कि बालों की प्रकृति के अनुसार क्या खाना चाहिए।

बालों की देखभाल के लिए क्या खाना चाहिए? – Food regimen for Hair Care in Hindi

यहां हम कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जो रूखे, बेजान व तैलीय बालों के लिए जरूरी हैं। इन खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में शामिल करने से जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं, जो बालों के लिए जरूरी हैं। अगर आपके बाल पूरी तरह से ठीक हैं, तो भी आप इनका सेवन कर सकते हैं।

Diet for Hair Care in Hindi Pinit

Shutterstock

1. तैलीय बालों के लिए

  • विटामिन-बी व ई : बालों व शरीर के लिए विटामिन-बी बेहद जरूरी है। विटामिन-बी युक्त खाद्य पदार्थ खाने से शरीर में सीबम का उत्पादन नियंत्रित हो जाता है। यह सीबम ही है, जो शरीर व स्कैल्प में पसीने व तेल का कारण बनता है। फिश, मीट, फल व सब्जियों में विटामिन-बी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ये न सिर्फ बालों को लंबा और घना बनाते हैं, बल्कि उनकी चमक भी लौटते हैं। वहीं, विटामिन-ई युक्त खाद्य पदार्थों में जरूरी ऑयल होते हैं, जो त्वचा व बालों को स्वस्थ रखते हैं। ये मुख्य तौर पर हरी पत्तेदार सब्जियों, फलों व सूखे मेवों में पाए जाते हैं।
  • जिंक : हमारे शरीर को जिंक की जरूर होती है। जिंक युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने से शरीर में सीबम के उत्पादन को नियंत्रित किया जा सकता है। बाजार में जिंक के सप्लीमेंट्स आसानी से मिल जाते हैं। इसके अलावा, मछली, सूखे मेवों, अनाज व फलियों में भी जिंक पाया जाता है। ओट्स को भी जिंक का मुख्य स्रोत माना गया है। इन खाद्य पदार्थों के सेवन से बालों की गुणवत्ता में सुधार होगा।

2. रूखे बालों के लिए

  • आयरन : बालों के फॉलिकल्स को बढ़ाने व मजबूत करने के लिए आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
  • विटामिन-डी : बालों के बढ़ने में विटामिन-डी का अहम योगदान होता है। इसके सेवन से बालों में नई जान आती है। मशरूम में विटामिन-डी अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है। साथ ही सोया पेय पदार्थ व योगर्ट में विटामिन-डी होता है। आप विटामिड-डी के सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।
  • ओमेगा-Three : अगर आप नरम व मुलायम बालों की चाहत रखते हैं, तो अपने भोजन में ओमेगा-Three को शामिल करना न भूलें। सेलमन व मैकरल जैसी फैटी फिश में ओमेगा-Three काफी होता है। सोयाबीन, अलसी के बीज, अखरोट व अंडे भी ओमेगा-Three के प्रमुख स्रोत हैं।
  • बायोटीन (विटामिन-बी8) : बालों की मजबूत के लिए बायोटीन बेहद जरूरी है। यह फैटी एसिड, कार्बोहाइड्रेट व अमिनो एसिड के चयापचय (मेटाबॉलिज) करने में मदद करता है। बायोटीन की कमी से बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है। यहां तक कि आईब्रो व पलकों के बाल भी झड़ सकते हैं। अंडे, दूध व सोया में बायोटीन पाया जाता है।

इस लेख के अंत में हम बालों के लिए कुछ अन्य टिप्स बता रहे हैं।

कुछ और हेयर केयर टिप्स – Different Hair Care Ideas in Hindi

Other Hair Care Tips in Hindi Pinit

Shutterstock

  • तेल मालिश : हफ्ते में कम से कम एक बार सिर की मालिश जरूर करनी चाहिए। मालिश करने से स्कैल्प को जरूरी पोषण मिलता है और रूखापन दूर होता है। साथ ही बाल जड़ों से मजबूत होते हैं और लंबे व घने होने लगते हैं। मालिश के लिए आप नारियल, जैतून, बादाम या फिर अरंडी का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर तेल को हल्का गर्म करके लगाया जाए, तो अच्छा असर होता है। साथ ही इसे नहाने से आधा या एक घंटा पहले लगाना चाहिए। वहीं, अगर आप रात को मालिश करके सोते हैं, तो और भी अच्छे परिणाम देखने को मिल सकते हैं।
  • प्रदूषण से बचाव : इन दिनों हर जगह प्रदूषण बढ़ गया है, जो बालों की सेहत के लिए अच्छा नहीं है। प्रदूषण की वजह से स्कैल्प में संक्रमण, खुजली, डैंड्रफ या फिर लाल धब्बे हो सकते हैं। इससे बाल जड़ों से कमजोर होकर टूटने लगते हैं और समय पूर्व गंजेपन का सामना करना पड़ता है। इसलिए, जितना संभव हो बालों को प्रदूषण से बचाना चाहिए। इसके लिए आप इस लेख में बताए गए घरेलू नुस्खों को आजमा सकते हैं।
  • ट्रिमिंग है जरूरी : जिस प्रकार स्वस्थ रहने के लिए तय समय पर संतुलित भोजन करना जरूरी है, उसी प्रकार बालों के विकास व स्वास्थ्य के लिए निश्चित समयांतराल पर ट्रिमिंग करवाना भी जरूरी है। इससे बाल न तो उलझते हैं और न ही दोमुंहे होने की आशंका होती है, जिससे इनका विकास ठीक तरह होता है।
  • बालों पर न करें प्रयोग : हम सुंदर दिखने के लिए बालों पर कई तरह के प्रयोग करते हैं। बालों के तरह-तरह के स्टाइल बनाने के लिए न जाने कितने केमिकल युक्त उत्पाद इस्तेमाल करते हैं। विभिन्न तरह के केमिकल से बालों की कुदरती चमक खो जाती है। साथ ही जड़ों से कमजोर होकर टूटने लगते हैं। बेहतर यही होगा कि आप बालों के लिए हर्बल प्रोडक्ट का प्रयोग करें।
  • गर्म पानी से बचें : कई लोग बाल धोने के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल करते हैं, जो गलत है। गर्म पानी से बालों की नमी खाने लगती है और रूखे व बेजान होने लगते है। इस कारण कुछ समय बाद बाल कमजोर होकर टूटने लगते हैं। इसलिए, गर्म पानी की जगह हल्का गुनगुना पानी या फिर ठंडा पानी इस्तेमाल करें।
  • बालों पर लगाएं कंडीशनर : अक्सर लोग शैंपू करने के बाद कंडीशर को सीध स्कैल्प प लगाते हैं, जो गलत है। इसकी जगह कंडीशर को बालों के ऊपर लगाएं और करीब दो मिनट बाद ही पानी से धो देना चाहिए।
  • रोज न धोएं बाल : कई लोग सोचते हैं कि बालों की सफाई के लिए इन्हें रोज धोना चाहिए, लेकिन ऐसा सोचना बिल्कुल गलत है। रोज बाल धोने से इनकी नमी खो जाती है और स्कैल्प से प्राकृतिक तेल खत्म हो जाता है। इससे बाल कमजोर होकर टूटने लगते हैं।
  • ऐसे सुखाएं बाल : बालों को धोने के बाद उन्हें तौलिये से रगड़कर साफ करनी की जगह हल्के हाथों से सुखाएं। साथ ही माइक्रोफाइबर वाले तौलिये का प्रयोग करें। इसके अलावा, बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें। इससे बाल जड़ों से कमजोर होते हैं।
  • सिर को ढकें : जब भी घर से बाहर निकलें, तो बालों को कैप या फिर सूती कपड़े से ढक लें, ताकि सूरज की हानिकारक किरणों से बालों को नुकसान न हो।

बालों का रखरखाव करना उतना मुश्किल नहीं है, जितना हम सोचते हैं। बस, आपको इसके लिए अपनी व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय निकालना होगा। यकीन मानिए, इस लेख में दिए गए घरेलू नुस्खों का प्रयोग करने से आपके बालों को जरूर फायदा होगा। यहां बताई गई किसी भी सामग्री से आपको एलर्जी है, तो उसे प्रयोग करने से पहले अपने हाथ पर लगा कर चेक कर लें। अगर आपको जलन होती है, तो उसे प्रयोग न करें। साथ ही इन घरेलू उपायों से आपको किस प्रकार लाभ हुआ, उसे नीचे दिए कमेंट बॉक्स में हमारे साथ जरूर शेयर करें।

share-on-pinterest
The next two tabs change content material under.

संबंधित आलेख

/**/