Hindi Reviews घरेलू उपचार

उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) के लक्षण, इलाज और घरेलृ उपचार

उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) के लक्षण, इलाज और घरेलृ उपचार – Excessive Blood Strain (Hypertension) Cures in Hindi Nripendra Balmiki Stylecraze December 27, 2018

उच्च रक्तचाप अनियंत्रित जीवनशैली का एक घातक परिणाम है। इसे हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर के नाम से भी जाना जाता है। यह एक चिकित्सीय स्थिति है, जिसमें धमनियों में रक्त दबाव सामान्य से तेज हो जाता है। सामान्य स्थित में रक्त प्रवाह 120/80 से 140/90 के बीच रहता है, लेकिन जैसे ही ब्लड प्रेशर इससे अधिक होने लगता है, उच्च रक्तचाप की समस्या खड़ी हो जाती है। यह गंभीर इसलिए है, क्योंकि इसके कारण गुर्दे, धमनियों और हृदय पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है (1)। अनियंत्रित उच्च रक्तचाप मस्तिष्क की रक्त वाहिकाओं को कमजोर कर स्ट्रोक का कारण बन सकता है। इसलिए, हाई बीपी के लक्षण और हाई ब्लड प्रेशर का उपचार संबंधी जानकारी आपको होनी चाहिए। इस लेख में हम हाई ब्लड प्रेशर के ट्रीटमेंट और इससे संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारियां आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

उच्च रक्तचाप (हाई बीपी) के प्रकार – Kinds of Excessive BP in Hindi

सिस्टोलिक उच्च रक्तचाप : सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर रक्त वाहिकाओं में दबाव को उस वक्त मापता है, जब ह्रदय धड़क रहा होता है।

डायस्टोलिक उच्च रक्तचाप : डायस्टोलिक ब्लड प्रेशर रक्त वाहिकाओं में दबाव को उस वक्त मापता है, जब धड़कनों के बीच ह्रदय कुछ पल के आराम करता है (2)।

उच्च रक्तचाप के कारण – Causes of Excessive BP in Hindi

  • धूम्रपान
  • मोटापा
  • शारीरिक गतिविधियों में कमी
  • भोजन में अत्यधिक नमक
  • बढ़ती उम्र
  • अनुवांशिकता
  • शराब
  • तनाव और थायराइड
  • गुर्दे से जुड़ा पुराना रोग
  • एड्रिनल संबंधी परेशानी (गुर्दे के ऊपर स्थित ग्रंथियां)
  • स्लीप एप्निया (गंभीर नींद विकार)

हाई ब्लड प्रेशर के कारण जानने के बाद आगे जानिए इसके विभिन्न लक्षणों के बारे में।

उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) के लक्षण – Signs of Excessive Blood Strain in Hindi

उच्च रक्तचाप को अक्सर ‘साइलेंट किलर’ कहा जाता है, क्योंकि यह कई बार बिना दस्तक के ही शरीर में दाखिल हो जाता है। यहां हम कुछ लक्षण बता रहे हैं, जिससे हाई ब्लड प्रेशर की पहचान की जा सकती है।

  • लगातार सिरदर्द
  • छाती में दर्द
  • नजर कमजोर होना
  • सांस लेने में दिक्कत
  • नाक से खून निकलना

हाई बीपी के लक्षण जानने के बाद आगे जानिए हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू इलाज के बारे में।

हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू इलाज – Residence Cures for Excessive BP in Hindi

हाइपरटेंशन एक गंभीर समस्या है, जिसे जड़ से खत्म नहीं किया जा सकता, लेकिन नियंत्रित जरूर किया जा सकता है। हालांकि, हाई ब्लड प्रेशर के उपचार के लिए आपको बाजार में कई दवाइयां मिल जाएंगी, लेकिन इस समस्या का इलाज आप घर बैठे ही कर सकते हैं। नीचे हम आपको हाई ब्लड प्रेशर के घरेलू इलाज बताने जा रहे हैं, जिनका इस्तेमाल कर आप हाई बीपी पर काबू पा सकते हैं।

1. लहसुन

सामग्री

  • लहसुन की 1 कली
  • एक चम्मच

कैसे करें इस्तेमाल

  • आप सुबह-शाम एक चम्मच हनी के साथ 1 लहसुन की कली ले सकते हैं।
  • भोजन बनाने में भी लहसुन का इस्तेमाल करें।

कैसे है लाभदायक

लहसुन एक गुणकारी खाध पदार्थ है, जिसका इस्तेमाल शरीर से जुड़ी कई बीमारियों के लिए किया जाता है। लहसुन का इस्तेमाल कर आप अनियंत्रित रक्तचाप का इलाज कर सकते हैं। यह 10 mmHg सिस्टोलिक और eight mmHg डायस्टोलिक रक्चचाप को कम करता है। लहसुन में बायोएक्टिव सल्फर यौगिक के रूप में एस-एल सिस्टीन पाया जाता है, जो हाई ब्लड प्रेशर के लिए काफी लाभदायक है (Three)।

2. आंवला

Gooseberry Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • दो चम्मच आंवले का रस

कैसे करें इस्तेमाल

  • एक गिलास साफ पानी में दो चम्मच आंवले का रस मिलाएं।
  • रोज सुबह खाली पेट लें।

कैसे है लाभदायक

सिट्रस फलों में आंवला एक गुणकारी फल है। इसे ‘इंडियन गूजबेरी’ भी कहा जाता है। इसका स्वाद खट्टा या कड़वा होता है। इसमें, उच्च विटामिन-सी पाया जाता है, जिसका इस्तेमाल कर आप उच्च रक्तचाप को नियंत्रित कर सकते हैं (four)।

Three. मेथी

सामग्री

  • आधा चम्मच मेथी के बीज
  • एक गिलास गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच मेथी के बीज डाल दीजिए।
  • फिर इसे रातभर के लिए छोड़ दें।
  • सुबह उठते ही खाली पेट इस पानी का सेवन कीजिए।

कैसे है लाभदायक

मेथी विटामिन, खनिज, लौह, कैल्शियम और प्रोटीन से समृद्ध एक गुणकारी घरेलू औषधी है, जिसका सेवन आप हाइपरटेंशन पर नियंत्रण पाने के लिए कर सकते हैं। मैथी शरीर में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करने के साथ-साथ मेटाबॉलिज्म के स्तर में भी सुधार करती है और एंटीऑक्सीडेंट का काम करती है (5)।

four. शहद

Honey Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • करीब 226 ग्राम अजवाइन के पत्तों का रस
  • इतना ही शहद

कैसे करें इस्तेमाल

  • दिन में तीन बार अजवाइन के पत्तों का रस शहद में मिलाकर लें (6)।

कैसे है लाभदायक

शहद में एंटीबायोटिक, माइक्रो न्यूट्रिएंट, एंटीऑक्सीडेंट के साथ विटामिन ए, बी और सी भी पाया जाता है। शहद और अजवाइन के पत्तों का रस हाई ब्लड प्रेशर का उपचार है।

5. प्याज का रस

सामग्री

  • आधा चम्मच प्याज का रस
  • आधा चम्मच शहद

कैसे करें इस्तेमाल

  • प्याज के रस को शहद के साथ अच्छी तरह मिला लें।
  • दिन में दो वक्त (सुबह और शाम) बराबर मात्रा में लें।

कैसे है लाभदायक

प्याज की परतों में कुएरसेटीं नामक तत्व पाया जाता है, जो उच्च रक्त चाप को नियंत्रित करने में काफी मदद करता है (7)। आप हाई ब्लड प्रेशर का उपचार करने लिए प्याज के रस का इस प्रकार सेवन कर सकते हैं।

6. नारियल पानी

सामग्री

  • करीब 250-300 एमएल नारियल पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • रोज सुबह नारियल पानी का सेवन करें।

कैसे है लाभदायक

नारियल पानी में खनिज और लवण पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं, जो धमनियों में रक्त प्रवाह के असंतुलन को शांत करने में मदद करते हैं। शोधकर्ताओं का मानना है कि नारियल पानी में मौजूद पोटेशियम तत्व रक्तचाप को कम करने में एक बड़ी भूमिका निभाता है (eight)। पोटेशियम रक्त में सोडियम के स्तर को संतुलित करता है। हाई ब्लड प्रेशर की दवा के रूप में आप नारियल पानी का सेवन कर सकते हैं।

7. तरबूज

सामग्री

  • तरबूज (आवश्यकतानुसार)

कैसे करें इस्तेमाल

  • ताजे तरबूज को साफ चाकू की मदद से छोटा-छोटा काट लें।
  • फिर इसे बाउल में रखकर खाएं।

कैसे है लाभदायक

तरबूज एक गुणकारी फल है, जिसका सेवन आप उच्च रक्तचाप की स्थिति में कर सकते हैं। तरबूज में मौजूद एमिनो एसिड एल-साइट्रूलाइन और एल-आर्जिनिन तत्व हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं (9)।

eight. दालचीनी

सामग्री

  • दालचीनी पाउडर
  • एक गिलास गर्म पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • चुटकी भरी दालचीनी पाउडर को खाना बनाते वक्त इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसे सप्लीमेंट्री के रूप में भी ले सकते हैं, लेकिन इसके लिए पहले डॉक्टर से पूछना जरूरी है।
  • इसके अलावा, आप चम्मच का एक चौथाई दालचीनी पाउडर एक गिलास गर्म पानी के साथ सुबह ले सकते हैं।

कैसे है लाभदायक

दालचीनी में कई यौगिक तत्व पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं। इसमें पॉलीफेनॉल, एंटीऑक्सीडेंट और सिनामाल्डेहाइड व सिनेमिक एसिड शामिल है। ये सभी तत्व उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के काम आते हैं (10)।

9. नींबू

सामग्री

  • आधे नींबू का रस
  • एक कप पानी

कैसे करें इस्तेमाल

  • पानी में नींबू का रस मिलाकर गर्म करे लें और रोज सुबह खाली पेट पिएं।

कैसे है लाभदायक

नींबू रक्त वाहिकाओं को नरम और लचीला बनाने में मदद करता है। नींबू एंटी-ऑक्सीडेंट्स में समृद्ध होता है, जिससे कोशिकाएं स्वस्थ रहती हैं। हाई ब्लड प्रेशर का उपचार करने के लिए आप नींबू का प्रयोग कर सकते हैं (11)।

10. आलू

सामग्री

  • उबले हुए आलू ( 2 मध्यम आकार)
  • चुटकी भर काली मिर्च
  • नींबू के रस की 6-7 बूंदें

कैसे करें इस्तेमाल

  • आलू को उबाल लें और चुटकी भर काली मिर्च का पाउडर व 6-7 बूंदें नींबू की मिलाकर सलाद के रूप में खाएं।
  • आप हफ्ते में दो बार इस प्रकार आलू का सेवन कर सकते हैं।

कैसे है लाभदायक

सब्जियों में आलू का सेवन कर उच्च रक्तचाप के खतरे को कम किया जा सकता है। आलू में पर्याप्त मात्रा में पोटेशियम होता है (12) और पोटेशियम हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में कारगर माना गया है (eight)। इस प्रकार आलू का सेवन कर आप हाई ब्लड प्रेशर का इलाज घर बैठे-बैठे कर सकते हैं।

11. अजवाइन

Celery Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • अजवाइन की चार मध्यम आकार की डंठल

कैसे करें इस्तेमाल

  • सबसे पहले साफ पानी से अजवाइन की डंठलों को धो लें।
  • अब जूसर की मदद से डंठलों का जूस निकला लें।
  • उच्च रक्तचाप की स्थिति में रोज सुबह खाली पेट जूस को पिएं।

कैसे है लाभदायक

अजवाइन के पत्तों के रस में Three-एन-ब्यूटिल फाथालाइड और एपिगेनिन जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो उच्च रक्तचाप की स्थिति में फायदा पहुंचाते हैं। फाथालाइड रक्त वाहिकाओं की चिकनी मांसपेशियों को आराम पहुंचाने में मदद करता है। उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए आप आप अजवाइन का उपाय कर सकते हैं (6)।

12. गाजर

सामग्री

  • मध्यम आकार की four गाजर

कैसे करें इस्तेमाल

  • गाजर को पहले साफ पानी से धो लें।
  • जूसर की मदद से इन गाजरों का जूस निकाल लें।
  • रोज सुबह खाली पेट जूस का सेवन करें।

कैसे है लाभदायक

उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए आप गाजर का सेवन कर सकते हैं। गाजर, पोटेशियम और बीटा कैरोटीन जैसे तत्वों से समृद्ध होता है। गाजर का जूस सिस्टोलिक उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। गाजर का जूस ह्रदय और गुर्दों के लिए भी फायदेमंद है (13)। हाई ब्लड प्रेशर की दवा के रूप में आप गाजर का सेवन कर सकते हैं।

13. लाल मिर्च

सामग्री

  • एक चौथाई चम्मच लाल मिर्च का पाउडर

कैसे करें इस्तेमाल

  • आधे गिलास पानी में लाल मिर्च का पाउडर अच्छी तरह मिलाकर सुबह पिएं।

या फिर

  • आप सब्जियों की सलाद (गाजर, मूली, बंदगोभी, चुकंदर आदि) में चुटकी भर लाल मिर्च का पाउडर मिलाकर सेवन कर सकते हैं।
  • इसके अलावा, भोजन पकाने में आवश्यकतानुसार लाल मिर्च का इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे है लाभदायक

लाल मिर्च तीखी होती है, लेकिन उच्च रक्तचाप से छुटकारा पाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। लाल मिर्च प्राकृतिक रूप से रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। लाल मिर्च में कैप्साइसिन नामक तत्व पाया जाता है, जो रक्तचाप को संतुलित करने में मदद करता है (14)।

14. केला

सामग्री

  • 2-Three केले
  • संतरे का जूस (वैकल्पिक)

कैसे करें इस्तेमाल

  • रोजाना 2-Three केलों का करें सेवन।
  • अगर आप चाहें तो सुबह नाश्ते में एक गिलास संतरे के जूस के साथ एक केला खा सकते हैं।

कैसे है लाभदायक

केले में सोडियम कम होता है और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा शून्य होती है। केले में पोटेशियम की मात्रा भी पाई जाती है, जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में काफी मदद करता है (15),(16)। हाई ब्लड प्रेशर की दवा के रूप में आप केले का सेवन कर सकते हैं।

15. मूली

Radish Pinit

Shutterstock

सामग्री

  • मध्यम आकार की ताजी मूली

कैसे करें इस्तेमाल

  • आप भोजन के समय मूली का सेवन सलाद के रूप में कर सकते हैं।
  • अगर आप चाहें तो मूली की सब्जी बनाकर भी खा सकते हैं।

कैसे है लाभदायक

मूली में पोटेशियम की मात्रा (17) ज्यादा और सोडियम की कम होती है। हाई ब्लड प्रेशर को कम करने और रक्त वाहिकाओं को आराम देने के लिए मूली काफी फायदेमंद है। इस प्रकार आप हाई बीपी का इलाज घर बैठे कर सकते हैं।

नोट : अगर आप किसी गंभीर शारीरिक समस्या से ग्रसित हैं, तो उपरोक्त घरेलू उपायों को अपनाने से पहले डॉक्टर से एक बार जरूर पूछ लें।

उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) के लिए कुछ और टिप्स – Different Ideas for Excessive Blood Strain Remedy in Hindi

  1. शरीर का वजन : उच्च रक्तचाप के दिनों में आपके शरीर का वजन भी प्रभावित होता है। अपने शरीर के वजन को बनाए रखने के लिए डॉक्टर से बॉडी मास इंडेक्स को मापने और गणना के लिए जरूर कहें।
  1. धूम्रपान : उच्च रक्तचाप का एक कारण धूम्रपान भी है (18)। इसलिए, हाई ब्लड प्रेशर की पहचान होने पर धूम्रपान बिल्कुल न करें। यह आपके लिए घातक हो सकता है।
  1. भोजन: उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए आप DASH (Dietary Approaches to Cease Hypertension) Weight-reduction plan का पालन करें। DASH फल, सब्जी व दूध आधारित खाध पदार्थ और बिना चर्बी वाले मांस का सेवन करने के लिए प्रोत्साहित करता है (19)। इस डाइट के माध्यम से आप घर बैठे हाई बीपी का इलाज कर सकते हैं।
  1. योग : योग एक आध्यात्मिक मार्ग है, जो तनाव को कम करके उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करता है। शरीर को रोगमुक्त और स्वस्थ रखने के लिए विभिन्न प्रकार के योगासन किए जाते हैं। आप किसी योग विशेषज्ञ से रक्तचाप के लिए उचित योग सीख सकते हैं (20)।
  1. अल्कोहल: अत्यधिक शराब का सेवन करने से भी उच्च रक्त चाप का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं, तो भूलकर भी मदिरापान न करें (21)।
  1. तनाव पर नियंत्रण: अत्यधिक तनाव कई शारीरिक बीमारियों की जड़ है, जिसमें हाइपरटेंशन भी शामिल है। इसलिए, हाई ब्लड प्रेशर से निजात पाने के लिए आप तनाव पर नियंत्रण रखना शुरू कर दें। अत्यधिक तनाव के कारण शरीर में वाहिकासंकीर्णन (vasoconstriction) हार्मोन की वृद्धि होती है। यह हार्मोन रक्त वाहिकाओं को संकीर्ण कर और ह्रदय गति को बढ़ाकर उच्च रक्तचाप का कारण बनता हैं (22)। तनाव को नियंत्रित कर आप हाई बीपी का इलाज कर सकते हैं।

उच्च रक्तचाप एक ऐसी शारीरिक समस्या है, जिसे पूरी तरह खत्म कर पाना मुश्किल है, लेकिन इसे नियंत्रित किया जा सकता है। इस लेख में बताए गए घरेलू नुस्खों को जीवनशैली का हिस्सा बनाकर आप हाई ब्लड प्रेशर पर काबू पा सकते हैं। साथ ही आप अपने विचार नीचे दिए कमेंट बॉक्स में हमारे साथ शेयर कर सकते हैं।

share-on-pinterest
The next two tabs change content material under.

संबंधित आलेख

/**/