Hindi Reviews घरेलू उपचार

अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के 15 घरेलू उपाय

अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के 15 घरेलू उपाय – Prime 15 House Cures To Lighten Your Darkish Underarms Arpita Biswas January 2, 2019

हर कोई आकर्षक दिखना चाहता है और इसमें कपड़े अहम भूमिका निभाते हैं। फैशन के इस दौर में लड़कियां/महिलाएं किसी भी तरह के कपड़े पहनने से नहीं हिचकिचाती हैं। अब तो स्लीवलेस पहनना आम हो गया है। कई बार तो पार्टी में जाते वक्त महिलाएं बैंडो ड्रेस भी पहनना पसंद करती हैं। वहीं, कुछ महिलाएं डार्क अंडरआर्म्स के कारण चाहकर भी स्लीवलेस ड्रेस नहीं पहन पाती हैं। हालांकि, ठंड में स्वेटर और जैकेट की वजह से बगल का कालापन नजर नहीं आता, लेकिन गर्मियों में शर्मिंदगी महसूस होती है।

अंडरआर्म्स की त्वचा बहुत संवेदनशील होती है। ज्यादा रेजर, कॉस्मेटिक, परफ्यूम या डियोड्रेंट के इस्तेमाल से त्वचा काली होने लगती है। वक्त रहते इस पर ध्यान न देते पर आगे चलकर काले कांख की समस्या हो जाती है। हालांकि, यह परेशानी सिर्फ लड़कियों को ही नहीं, बल्कि पुरुषों को भी है। इसलिए, इस पर सही वक्त पर ध्यान देना जरूरी है। कई बार लोग बाजार में मिलने वाले तरह-तरह के कॉस्मेटिक ट्राई करते हैं, जो न सिर्फ महंगे होते हैं, बल्कि उनमें कई तरह के केमिकल होते हैं, लेकिन इनका भी कुछ खास असर नहीं हो पाता है। इसलिए, स्टाइक्रेज के इस लेख में हम अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के कुछ असरदार घरेलू उपाय बता रहे हैं। इससे न सिर्फ बगल का कालापन कम होगा, बल्कि इनके साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होंगे।

Contents

1. डार्क अंडरआर्म्स के लिए सेब का सिरका

सामग्री
  • दो चम्मच सेब का सिरका
  • दो चम्मच बेकिंग सोडा
उपयोग करने का तरीका
  • बेकिंग सोडा में सिरका मिलाएं और इसे अच्छे से घोल लें।
  • एक बार जब यह अच्छे से घुल जाए, तो इसे अपने अंडरआर्म्स में लगाकर थोड़ी देर सूखने दें।
  • फिर थोड़ी देर के बाद उसे धो दें।
कितनी बार लगाएं ?

आप हफ्ते में तीन बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

सेब के सिरके में हल्का एसिड होता है, जो त्वचा में जमे हुए मृत कोशिकाओं को हटाकर डार्क अंडरआर्म्स को ठीक करते हैं। साथ ही यह एक कीटाणुरोधक के रूप में भी कार्य करता है और सूक्ष्म जीवों को खत्म करता है (1, 2)।

सावधानी : अगर आपकी त्वचा संवेनदशील है, तो एक चम्मच सेब के सिरके में एक चम्मच पानी और बेकिंग सोडा मिलाएं।

2. डार्क अंडरआर्म्स के लिए एलोवेरा

सामग्री
  • एलोवेरा का पत्ता
उपयोग करने का तरीका
  • एलोवेरा के पत्ते को काटकर उसका जेल निकालें।
  • अब इस जेल को अपने अंडरआर्म्स में लगाकर 10 से 15 मिनट तक रहने दें।
  • फिर थोड़ी देर बाद पानी से धो लें।
  • अगर आपके पास एलोवेरा का पौधा नहीं है, तो आप बाजार में मिलने वाले ऑर्गेनिक एलोवेरा जेल का भी उपयोग कर सकते हैं।
कितनी बार लगाएं ?

आप इसे हर दूसरे दिन लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

एलोवेरा में एलोसिन (Aloesin) होता है। यह एक टायरोसिन अवरोधक (tyrosinase inhibitor) है। यह एक तरह का एंजाइम है, जो त्वचा पर पिगमेंटेशन के लिए जिम्मेदार है। एलोवेरा इस एंजाइम की गतिविधि में बाधा डालकर आपके अंडरआर्म्स के कालेपन को दूर करता है (three)। यह एंटीबैक्टीरियल भी होता है, जो त्वचा में होने वाले खुजली या जलन को कम कर सकता है (four)।

three. डार्क अंडरआर्म्स के लिए जैतून का तेल

सामग्री
  • दो चम्मच जैतून का तेल
  • दो से तीन चम्मच भूरी चीनी
उपयोग करने का तरीका
  • तेल में भूरी चीनी को अच्छे तरह मिलाएं।
  • अब अपने अंडरआर्म्स को हल्का भिगोकर उस पर यह मिश्रण लगाएं।
  • फिर इसे एक से दो मिनट के लिए स्क्रब करें और फिर पांच मिनट के लिए छोड़ दें।
  • बाद में गुनगुने पानी से धो दें।
कितनी बार लगाएं?

जब तक आपको पूरा परिणाम न मिले, तब तक आप इसे हफ्ते में दो बार लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

जैतून का तेल त्वचा को हाइड्रेट करने के साथ-साथ पोषण भी देता है। इसमें प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है (5)। भूरी चीनी एक्सफोलिएट (मृत त्वचा को हटाना) का काम कर त्वचा की मृत कोशिकाओं को निकालकर त्वचा की रंगत को निखारती है (6)।

four. डार्क अंडरआर्म्स के लिए हल्दी

सामग्री
  • एक चम्मच हल्दी पाउडर
  • एक चम्मच दूध
  • एक चम्मच शहद
उपयोग करने का तरीका
  • सारी सामग्रियों को मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें।
  • फिर उस पेस्ट को अपने अंडरआर्म्स में लगाएं।
  • फिर इसे 10-12 मिनट के लिए सूखने दें।
  • उसके बाद पानी से धो लें।
कितनी बार लगाएं ?

हफ्ते में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

हल्दी को आमतौर पर फेस पैक की तरह लगाया जाता है। यह त्वचा के दाग-धब्बों को हल्का कर रंगत को निखारती है। अगर आप डार्क अंडरआर्म्स पर इसका लगातार उपयोग करेंगे, तो कालापन दूर हो जाएगा (7, eight)। वहीं, दूध में लैक्टिक एसिड होता है, जो डार्क अंडरआर्म्स की रंगत निखारने में मदद करता है (9)।

सावधानी : अगर आपको दूध या दूध के उत्पादों से एलर्जी है, तो इस नुस्खे को न अपनाएं।

5. डार्क अंडरआर्म्स के लिए अरंडी का तेल

सामग्री
  • एक-दो चम्मच अरंडी का तेल
उपयोग करने का तरीका
  • नहाने से पहले अंडरआर्म्स में अरंडी का तेल लगाकर पांच मिनट तक मालिश करें।
  • फिर नहा लें।
कितनी बार लगाएं ?

आप इसे हर रोज इस्तेमाल करें।

कैसे फायदेमंद है ?

अरंडी का तेल आपकी त्वचा की सारी अशुद्धियों को निकालकर त्वचा को साफ करता है। यह आपके अंडरआर्म्स से गंदगी, अत्यधिक तेल और मृत कोशिकाओं को निकालकर अंडरआर्म्स की त्वचा की रंगत को हल्का करता है (10)। यह एक अच्छा स्किन कंडीशनर भी है (11)।

6. डार्क अंडरआर्म्स के लिए टी ट्री ऑइल

सामग्री
  • चार-पांच बूंद टी ट्री ऑइल
  • एक कप पानी
  • एक छोटी स्प्रे बोतल
उपयोग करने का तरीका
  • स्प्रे बोतल में पानी भरकर इसमें टी ट्री ऑइल डालकर अच्छी तरह से मिलाएं।
  • अब इस मिश्रण को अपने अंडरआर्म्स में स्प्रे करें और उसे प्राकृतिक तरीके से सूखने दें।
कितनी बार लगाएं ?

आप इसे हर रोज इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है ?

बगल का कालापन दूर करने के लिए टी ट्री ऑइल एक अच्छा विकल्प है। इससे न सिर्फ अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा मिलेगा, बल्कि इससे आपकी तन की बदबू भी कम होगी। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को स्वस्थ रखते हैं, वहीं इसके एंटीमाइक्रोबियल गुण कीटाणुओं को मारते हैं और शरीर की दुर्गंध को खत्म करते हैं (12)।

सावधानी : टी ट्री ऑइल एक एसेंशियल ऑइल है और यह काफी गाढ़ा होता है। कुछ लोगों की त्वचा पर यह सूट नहीं कर सकता है, इसलिए इसका पैच टेस्ट जरूर कर लें।

7 डार्क अंडरआर्म्स के लिए बादाम तेल

सामग्री
  • बादाम तेल की कुछ बूंदें
उपयोग करने का तरीका
  • पांच से दस मिनट के लिए बादाम तेल से अपने अंडरआर्म्स की मालिश करें।
कितनी बार लगाएं ?

आप इसे हर दिन लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

बादाम तेल में फाइटोकेमिकल (phytochemicals) के गुण हैं। इसे लगाने से बगल का कालापन दूर होता है और रंगत निखरती है। यह प्राकृतिक ब्लीच का काम करता है और इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा को फिर से जवां और खूबसूरत बनाता है (13)।

eight. डार्क अंडरआर्म्स के लिए नींबू रस

सामग्री
उपयोग करने का तरीका
  • नींबू को काट लें और उसे अपने अंडरआर्म्स पर दो-तीन मिनट तक रगड़ें।
  • नींबू रस को 10 मिनट तक लगा रहने दें और फिर धो लें।
कितनी बार लगाएं ?

हफ्ते में तीन से चार बार इसका उपयोग करें।

कैसे फायदेमंद है ?

नींबू के रस में सिट्रिक एसिड होता है, जो प्राकृतिक एक्सफॉलिएट और ब्लीच का काम करता है। वहीं विटामिन-सी रंगत को हल्का कर काले दाग-धब्बों को दूर करता है (14)। यह एक अच्छे अंडरआर्म्स ब्लीच की तरह काम करेगा।

9. डार्क अंडरआर्म्स के लिए खीरा

सामग्री
  • खीरे के दो टुकड़े
उपयोग करने का तरीका
  • खीरे के टुकड़ों को अपने अंडरआर्म्स पर एक से दो मिनट के लिए रगड़ें।
  • खीरे से निकले रस को आपने अंडरआर्म्स पर करीब 10 मिनट तक लगा रहने दें।
  • फिर इसके बाद पानी से धो लें।
कितनी बार लगाएं ?

जल्द और अच्छे परिणाम के लिए इसे हर दिन लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

खीर के टुकड़ों को अक्सर आंखों को ठंडक पहुंचाने और डार्क सर्कल्स हटाने के लिए उपयोग किया जाता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि इसमें त्वचा की रंगत को हल्का करने का गुण होता है (15)। यही गुण बगल का कालापन हटाने के लिए भी मददगार साबित हो सकता है।

10. डार्क अंडरआर्म्स के लिए प्यूमिक स्टोन

सामग्री
  • प्यूमिक स्टोन
उपयोग करने का तरीका
  • नहाने से पहले प्यूमिक स्टोन को भिगोकर कुछ मिनट तक अपने अंडरआर्म्स पर रगड़ें।
कितनी बार लगाएं ?

हफ्ते में दो-तीन बार इस विधि को अपनाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

प्यूमिक स्टोन का उपयोग कई सालों से एक्सफॉलिएट के तौर पर किया जाता आ रहा है। यह आपके त्वचा की काली परत को निकाल सकता है।

सावधानी : इसे ज्यादा जोर से नहीं, बल्कि हल्के-हल्के हाथों से रगड़ें। अंडरआर्म्स की त्वचा बहुत संवेनदशील होती है, इसे जोर से रगड़ने से आपकी त्वचा छिल सकती है।

11. डार्क अंडरआर्म्स के लिए सूरजमुखी का तेल

सामग्री
  • सूरजमुखी तेल की कुछ बूंदें
उपयोग करने का तरीका
  • अपने अंडरआर्म्स पर सूरजमुखी के तेल से एक-दो मिनट तक मालिश करें।
  • तेल को 15-20 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से धो लें।
कितनी बार लगाएं?

अच्छे परिणाम के लिए इसे दिनभर में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

इस तेल में प्रचुर मात्रा में विटामिन-ई मौजूद होता है, जो त्वचा को चमकदार बनाता है। इसे अंडरआर्म्स पर लगाने से रक्तसंचार में सुधार आता है (16)।

12. डार्क अंडरआर्म्स के लिए मुल्तानी मिट्टी

सामग्री
  • दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी
  • एक चम्मच नींबू का रस
  • पानी
उपयोग करने का तरीका
  • मुल्तानी मिट्टी में नींबू का रस और आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इसे अपने अंडरआर्म्स पर 10 मिनट तक लगाकर रखें और फिर धो लें।
कितनी बार लगाएं ?

मुल्तानी मिट्टी के इस पैक को आप हफ्ते में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

मुल्तानी मिट्टी में प्राकृतिक गुण हैं, जो त्वचा की अशुद्धियों को सोखकर रोमछिद्रों को साफ करते हैं। यह मिट्टी त्वचा की मृत कोशिकाओं को एक्सफोलिएट कर अंडरआर्म्स के कालेपन को हल्का करती है (17)।

सावधानी : कुछ लोगों की त्वचा संवेदनशील होती है। संभव है कि मुल्तानी मिट्टी का पैक उन्हें सूट न करे।

13. डार्क अंडरआर्म्स के लिए गुलाब जल

सामग्री
  • गुलाब जल
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा
उपयोग करने का तरीका
  • बेकिंग सोडा और गुलाब जल को मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने अंडरआर्म्स पर लगाकर आठ-दस मिनट के लिए रखें, ताकि यह सूख जाए।
  • फिर इसे ठंडे पानी से धो दें।
कितनी बार लगाएं ?

हफ्ते में दो बार इस पैक को लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

गुलाब जल त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इससे त्वचा की रंगत निखरती है, त्वचा नर्म, मुलायम और मॉइस्चराइज होती है। यह त्वचा के पीएच को भी संतुलित रखता है (18)। वहीं, बेकिंग सोडा एक्सफोलिएट का काम करता है (19)।

14. डार्क अंडरआर्म्स के लिए आलू

सामग्री
  • एक छोटा आलू
उपयोग करने का तरीका
  • आलू को छीलकर उसे कद्दूकस कर लें।
  • अब इस कद्दूकस किए आलू को निचोड़कर रस निकाल लें और उसे अपने अंडरआर्म्स पर लगा लें।
  • फिर 10-15 मिनट बाद उसे पानी से धो लें।
कितनी बार लगाएं ?

जब तक आपको परिणाम न मिल जाए, आप इसे दिनभर में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

आलू अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए कारगर घरेलू उपाय है। आलू एक प्राकृतिक ब्लीच की तरह कम करता है। यह काले धब्बों को भी कम कर सकता है। यह पिगमेंटेशन से होने वाली खुजली और जलन से भी आराम दिलाता है (20)।

15. डार्क अंडरआर्म्स के लिए फिटकिरी

सामग्री
  • एक या दो चम्मच फिटकिरी का पाउडर
  • पानी
उपयोग करने का तरीका
  • फिटकिरी का पेस्ट बना लें।
  • फिर नहाने से पहले इस पेस्ट को लगाकर 10 से 15 मिनट तक रहने दें।
  • उसके बाद नहा लें।
कितनी बार लगाएं ?

हफ्ते में एक या दो बार इस पेस्ट को लगाएं।

कैसे फायदेमंद है ?

फिटकिरी त्वचा को रोगाणुओं से मुक्त कराती है और त्वचा के पीएच को संतुलित रखती है। खुजली और पसीने के लिए जिम्मेदार कीटाणुओं को (जो अंडरआर्म्स के कालेपन की वजह होते हैं) फिटकिरी खत्म करती है (21)।

सावधानी : जरूरी नहीं कि फिटकिरी हर किसी की त्वचा को सूट करे, इसलिए इसका इस्तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्ट जरूर कर लें।

यहां बताए गए घरेलू उपाय आप किसी और सामग्री के साथ भी मिलाकर लगा सकते हैं, ताकि आपको कम वक्त में बेहतर परिणाम मिल जाए। अगर आपको ऊपर बताई गई किसी भी सामग्री से एलर्जी है या आप किसी सामग्री को लेकर निश्चित नहीं है, तो आप उस उपाय को करने से पहले पैच टेस्ट कर लें या अपने डॉक्टर से पूछ लें।

इसके अलावा, नीचे हम आपके साथ अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के लिए एक वीडियो भी शेयर कर रहे हैं।

डार्क अंडरआर्म्स होने के कारण

डार्क अंडरआर्म्स होने के कई कारण है जैसे – अत्यधिक केमिकल का इस्तेमाल करना, इसमें ब्लीच, हेयर रिमूविंग क्रीम, डियोड्रेंट शामिल है। बार-बार शेविंग करने से भी अंडरआर्म्स काले हो जाते हैं। यहां तक कि गर्भावस्था के वजह से भी अंडरआर्म्स काले हो सकते हैं, लेकिन कुछ महीनों में ठीक भी हो जाते हैं।

  • गहरे-सांवले रंग के लोगों को डार्क अंडरआर्म्स की समस्या ज्यादा हो सकती है, क्योंकि उनके शरीर में मेलेनिन (melanin) की मात्रा अधिक होती है।
  • मेलेनिन (Melanin) त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाता है।
  • प्रेग्नेंसी या हॉर्मोन के वजह से भी अंडरआर्म्स काले हो सकते हैं।
  • डायबिटीज या उच्च इंसुलिन स्तर भी त्वचा के कालेपन की वजह होती है।
  • एरिथ्रस्मा (Erythrasma) एक प्रकार का बैक्टीरियल इंफेक्शन है, यह भी अंडरआर्म्स के कालेपन का अहम कारण है।

अब जब आप अंडरआर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के उपाय जान गए हैं, तो देर किस बात की। इन उपायों को अपनाकर बगल का कालापन दूर करें और स्लीवलेस ड्रेस और टॉप पहनने के लिए तैयार हो जाएं। साथ ही अपने अनुभव हमारे साथ नीचे कमेंट बॉक्स में साझा करना न भूलें।

share-on-pinterest
The next two tabs change content material under.

  • अंडर आर्म्स के कालेपन से छुटकारा पाने के 15 घरेलू उपाय – Prime 15 Residence Cures To Lighten Your Darkish Underarms – January 2, 2019
  • ऑयली त्वचा के लिए 20 मॉइस्चराइजर – Greatest Moisturizers For Oily Pores and skin in Hindi – December 27, 2018
  • मुंह में छाले होने के कारण, लक्षण और उपचार – How To Get Rid Of Chilly Sores, causes, signs and precautions in Hindi – December 24, 2018
  • रूखे-बेजान बालों के लिए 20 सबसे अच्छे शैंपू – Shampoos For Dry And Broken Hair in Hindi – December 24, 2018
  • अलसी के फायदे, उपयोग और नुकसान – Flax Seeds (Alsi) Advantages, Makes use of and Aspect Results in Hindi – December 20, 2018

संबंधित आलेख

/**/